दुनिया की सबसे महंगी कार: 1105 करोड़ में बिकी 1955 की माॅडल मर्सिडीज-बेंज 300 एसएलआर

5/21/2022 3:27:43 PM

ऑटो डेस्क: मर्सिडीज कारों का जलवा हमेशा से रहा है। हाल ही में जर्मनी के सोथेबी में एक पुरानी कार की नीलामी हुई जिसने दनिया की कई सुपर लग्जरी और महंगी कारों को भी पीछे छोड़ दिया है। ये कार है  1955 की माॅडल  मर्सिडीज-बेंज 300 एसएलआर। रिपोर्ट के मुताबिक मर्सिडीज-बेंज 300 एसएलआर 142 मिलियन डॉलर, यानी तकरीबन 1,105 करोड़  नीलाम हुई है।

PunjabKesari

जर्मनी में गुप्त नीलामी के जरिए यह कार बिकी। दुनिया की सबसे महंगी विंटेज मर्सिडीज खरीदने वाले का नाम गुप्त रखा गया है। नए मालिक को कभी-कभार इसे चलाने का मौका मिलेगा। 

PunjabKesari

इस कार ने 1962 मॉडल की फरारी 25 जीटीओ के रिकॉर्ड को तोड़ दिया जो कि 48.4 मिलियन डॉलर (375 करोड़ रुपए) में बेची गई थी।

PunjabKesari

मर्सिडीज-बेंज 300 एसएलआर उस समय की सबसे पॉवरफुल कारों में एक थी। इसमें 8 सिलेंडर के डीजल इंजन का इस्तेमाल किया गया था।कार से मशहूर रेसर जुआन मानुएल फंगिओ ने 1954 में वर्ल्ड चैंपियनशिप का खिताब जीता था। यह कार उस समय अपने डिजाइन के लिए भी चर्चा में रही थी।

PunjabKesari

 

कंपनी ने इसे बेहद स्पोर्टी लुक दिया था। यह सामने इंजन कम्पार्टमेंट से लंबी और पीछे से कूपे कार के डिजाइन की थी। कंपनी ने इसे रेसिंग के लिए एयरोडायनामिक डिजाइन दिया था। रेस के समय यह हवा के दबाव को कम करने में अन्य कारों के मुकाबले बेहतर थी।

कंपनी ने इसे बाद में 3.0-लीटर के हल्के इंजन के साथ भी लॉन्च किया था। खास बात यह है कि कंपनी ने इस मॉडल की केवल 9 कारें ही बनाई थीं जिसमें से दो स्पेशल एडिशन कारें थी और इन्हें रेसरों के लिए समर्पित किया गया था।

PunjabKesari

बता दें कि भारतीय बाजार में मर्सिडीज-बेंज ने नई सी-क्लास सेडान  को 55 लाख रुपए (एक्स-शोरूम) की कीमत पर लॉन्च कर दिया। यह भारत में कंपनी की पांचवीं जनरेशन सी-क्लास सेडान है। इसे तीन वेरिएंट- C200, C220d और C300d में पेश किया जाएगा। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Smita Sharma

Related News

Recommended News

static