आपके फोन में चल रही चाइनीज़ एप्स इस तरह होंगी बंद, जानें कैसे लागू होगा इन एप्स पर बैन

6/30/2020 11:04:30 AM

गैजेट डैस्क: सरकार द्वारा भारत में 59 चाइनीज़ एप्स को बैन कर दिया गया है। इनमें TikTok, UC ब्राउजर, Shareit और Camscanner जैसी लोकप्रिय एप्स शामिल हैं जिनका लोग काफी ज्यादा उपयोग भी कर रहे थे। इन एप्स को बैन करने का फैसला भारतीय सरकार ने यूजर्स के डाटा की सेफ्टी को ध्यान में रखते हुए लिया है। सरकार ने इसे देश की सुरक्षा और एकता को बनाए रखने के लिए जरूरी कदम बताया है।

इन टेक्नोलॉजी ऐक्ट के तहत लिया गया यह फैसला

चाइनीज़ एप्स को लेकर यह कार्रवाई इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी ऐक्ट, 2000 के सेक्शन 69A के तहत की गई है। यह सेक्शन किसी भी कंप्यूटर संसाधन से, किसी भी जानकारी के सार्वजनिक उपयोग पर रोक लगाने का अधिकार देता है। इसको लेकर सूचना व प्रसारण मंत्रालय ने बताया कि "हमें ऐसी कई रिपोर्ट्स से पता लगा है कि यूजर्स का डाटा चोरी हो रहा है और भारत के बाहर स्थित सर्वर्स पर बिना अनुमति डाटा को ट्रांसफर किया जा रहा है। यह भारत की संप्रभुता और अखंडता पर प्रहार के समान है और इसके लिए तुरंत कार्रवाई करनी बहुत जरूरी हो गई थी।"

किस तरह लागू होगा यह बैन

इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स को अब इन एप्स को देश में बैन करने के निर्देश दिए जाएंगे। ऐसे में संभावना है कि जल्द ही यूजर्स को एक मैसेज मिले जिसमें लिखा गया हो कि "सरकार के आदेश पर इन चाइनीज़ एप्स का ऐक्सेस रोक दिया गया है। इसके बाद टिक-टॉक, यूसी न्यूज जैसी एप्स के लाइव फीड को बंद किया जा सकेगा क्योंकि इन्हें ही इंटरनेट की सबसे ज्यादा आवश्यकता होती है।

ऐसे में हो सकता है कि ऑफलाइन इस्तेमाल होने वाली एप्स यूजर्स को खुद ही हटानी पड़ेंगी। इन एप्स को एप्पल के एप्प स्टोर और गूगल के प्ले स्टोर से धीरे-धीरे हटा दिया जाएगा। रिपोर्ट में तो यह भी बताया गया है कि सरकार ने 24 घंटों के अंदर गूगल और एप्पल को इन एप्स को रिमूव करने के निर्देश दिए हैं।


Hitesh

Related News