Apple पर लगा 200 करोड़ का जुर्माना, पुराने iPhones को जानबूझकर स्लो करने का आरोप

2/8/2020 10:57:37 AM

गैजेट डैस्क: पुराने iPhones को जानबूझकर स्लो करना एप्पल को काफी महंगा पड़ा है। फ्रांस की जांच एजेंसी DGCCRF ने एप्पल पर 27 मीलियन डॉलर (करीब 200 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया है। सिर्फ इतना ही नहीं एजेंसी ने एप्पल को एक महीने तक इससे जुड़ी स्टेटमेंट को भी अपनी ऑफिशियल वैबसाइट पर डिस्प्ले करने को कहा है। इस खबर को सबसे पहले ऑनलाइन टैक्नोलॉजी न्यूज वैबसाइट techcrunch ने उजागर किया है।

एप्पल को भारी पड़ा आईफोन्स को स्लो करना

इस मुद्दे पर एप्पल का कहना है कि उसने कुछ पुराने आईफोन्स को स्लो किया था ताकि उनकी लाइफ को बढ़ाया जा सके। इनमें iPhone 6, iPhone 7 और iPhone SE मॉडल शामिल थे।

इस बार बुरी फंसी एप्पल

रिपोर्ट के मुताबिक आईफोन्स को स्लो करने से पहले एप्पल ने यूजर्स को इससे जुड़ी कोई जानकारी नहीं दी है। इसी वजह से अब कम्पनी इस फाइन को चुकाने के लिए भी तैयार हो गई है।

कई वर्षों से चल रहा है यह मुद्दा

इस मुद्दे की जांच साल 2018 में शुरू हुई थी और यह मामला साल 2017 के अंत का है जब यूजर्स ने शिकायत करते हुए कहा था कि iOS अपडेट के बाद उनका आईफोन पहले के मुकाबले काफी धीरे काम कर रहा है।

एप्पल को देनी चाहिए थी यूजर्स को इससे जुड़ी जानकारी

जांच के बाद एप्पल ने कहा है कि पुराने आईफोन्स की बैटरी भी पुरानी हो गई है इसी वजह से उन्हें अचानक ऑफ होने से बचाने के लिए iOS 10.2.1 और iOS 11.2 में कुछ बदलाव किया गया था। ऐसे में कम्पनी से सबसे बड़ी गलती यह हो गई कि उसने यूजर्स को इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी। इसके अलावा कम्पनी ने कोई ऐसा ऑप्शन भी नहीं दिया जिससे वे पुराने iOS वर्जन को फिर से इंस्टॉल कर सकें।

दुनिया भर में एप्पल का हुआ कड़ा विरोध

आईफोन्स के स्लो होने के बाद फ्रांस के बाहर भी एप्पल के खिलाफ कड़े विरोध हुए। इसके अलावा दुनिया भर के कई देशों में एप्पल के खिलाफ कई केस भी दर्ज हुए। यही वजह थी कि एप्पल को उन यूजर्स को फ्री बैटरी रिप्लेसमेंट ऑफर करना पड़ा था जिनके डिवाइस नए अपडेट के बाद स्लो हो गए थे।


Hitesh

Related News