फेसबुक के लिए भारत की है बहुत महत्ता, जानें इसके पीछे का कारण

2/26/2021 5:48:53 PM

गैजेट डैस्क: फेसबुक के यूजर्स की संख्या का बहुत ही बड़ा हिस्सा भारत में है ऐसे में कहा जा सकता है कि फेसबुक के लिए भारतीयों का इस प्लैटफोर्म से जुड़े रहना बहुत जरूरी है। इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने एक प्रैस स्टेटमेंट के जरिए खुलासा किया है कि भारत में फेसबुक को ही प्रमुख रूप से इस्तेमाल में लाया जाता है। इसके अलावा फेसबुक के ही व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम के यूजर्स की संख्या भी भारत में बहुत ज्यादा है। मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि व्हाट्सएप के भारत में 53 करोड़ यूजर्स हैं और यबट्यूब 44.8 करोड़ यूजर्स के साथ दूसरे नंबर पर आती है। वहीं बात की जाए फेसबुक और इंस्टाग्राम की तो इनमें से फेसबुक के 41 करोड़ यूजर्स हैं वहीं इस्टाग्राम के 21 करोड़ यूजर्स हैं। इनके अलावा ट्विटर के सिर्फ 1.75 करोड़ यूजर्स बताए गए हैं। फेसबुक ने अब अपनी प्राइवेसी पॉलसी को अपडेट कर दिया है जिसके बाद कंपनी एनालिटिक्स को अपने प्लैटफोर्म्स पर क्रास शेयर करने वाली है। कंपनी इसे बिलकुल ही बिजनेस की नजर से देख रही है।

कंबाइन करने पर बनते हैं 115 करोड़ यूजर्स

व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम और फेसबुक एप्स के यूजर्स को अगर कंबाइन किया जाता है तो कुल मिला कर 115 करोड़ यूजर्स बनते हैं जोकि फेसबुक के लिए बड़ी बात है और मार्क जुकरबर्ग भी इसे कंबाइन कर ही देख रहे हैं। ज्यादा तर भारतीय ये तीनों एप्स ही चलाते हैं। जहां अन्य देशों में ये एप्स टफ टाइम से गुजर रही हैं, वहीं भारत में इस अमेरिकी सोशल मीडिया जाएंट का दबदबा कायम है।

क्या है भारत सरकार का सोशल मीडिया को लेकर प्लान

अब भारत सरकार एक नए फ्रेमवर्क पर काम कर रही है ताकि फेक न्यूज, पोर्न और एब्यूज लैंग्वेज पर लगाम लगाई जा सके। इसके अलावा "राष्ट्र-विरोधी तत्व" और अपराधियों का भी पता लगाया जा सके। अब फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया कंपनियों को एक चीफ कंपलाएंस ऑफिसर नियुक्त करना पड़ेगा जिसकी जिम्मेदारी  होगी कि वह सभी अधिनियम और नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करे। इसके अलावा एक नोडल कंटैक्ट पर्सन को भी 24x7 अपेएंट किया जाएगा। सरकार चाहती है कि ये कंपनियां रेज़िडेंट ग्रीवेंस ऑफिसर को भी नियुक्त करें। इन सभी पोस्ट्स पर भारतीयों को ही नौकरी दी जाए।

इसके अलावा इन कंपनियों को एक मंथली रिपोर्ट बनानी होगी जिसमें बताया जाएगा कि उन्हें कितनी कंपलेंट्स मिली हैं और किन कंपलेंट्स को सुलझाया गया है। इसके अलावा कंपनी ने किन कॉन्टैक्ट को रिमूव किया है। इसकी जानकारी भी चाहिए होगी। माना जा रहा है कि फेसबुक सरकार की सभी बातों को मान लेगी क्यों कि कंपनी का भारत में 115 करोड़ यूजर बेस है। ऐसे में सरकार को तो खुश रखना ही होगा।


Content Editor

Hitesh

Recommended News