स्मार्टफोन कंपनियों से यूजर्स की मांग, एक बार फिर से लाए जाएं रिमूवेब्ल बैटरी वाले फोन्स

6/15/2020 9:45:00 AM

गैजेट डैस्क: एक समय था जब स्मार्टफोन्स को खोलकर हम घर पर ही बैटरी बदल लेते थे। ऐसे में फोन के पुराने होने पर नई बैटरी उसमें दोबारा से जान डाल देती थी, लेकिन अब घर पर फोन की बैटरी निकालना मुश्किल है। ढेरों यूजर्स की मांग है कि अब भी फोन्स में रिमूवेब्ल बैटरी ही दीं जाएं।

साल 2015 में सैमसंग ने Galaxy S6 को ग्लास यूनीबॉडी डिजाइन के साथ बाजार में उतारा। इसके सफल होने के बाद बाकी की स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों ने इस ट्रेंड को फॉलो किया। Galaxy S6 की बैटरी नहीं निकाली जा सकती थी और इसके बाद से सैमसंग और अन्य कंपनियों के सारे फ्लैगशिप नॉन-रिमूवेबल बैटरी के साथ आने लगे।

रिमूवेबल बैटरी के हैं कई फायदे

यूजर्स को मौजूदा स्मार्टफोन डिजाइन से कोई शिकायत नहीं है, लेकिन रिमूवेबल बैटरी वाला फोन होने के अपने कुछ फायदे थे। लोग एक बैटरी को फुल चार्ज की गई दूसरी बैटरी के साथ बदल लेते थे, जिससे बड़े पावरबैंक को साथ रखने की जरूरत नहीं पड़ती थी। इसके अलावा कभी डिवाइस हैंग हो जाए तो बैटरी निकाल कर उसे फिर से ऑन करने पर काम चल जाता था।

हाल ही में Android Authority की ओर से पोल किया गया, जिसमें हजारों यूजर्स ने वोट किया। इनमें से करीब 27 प्रतिशत ने कहा कि वे सभी डिवाइसिस में रिमूवेबल बैटरी चाहते हैं, लेकिन कंपनियां लोगों की मांग पर ध्यान नहीं दे रही हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Hitesh

Related News

Recommended News

static