रोड सेफ्टी से जुड़ी ये बातें आपको जरूर जाननी चाहिए

1/17/2021 2:06:27 PM

ऑटो डैस्क: 32वें नैशनल रोड सफेटी वीक में ट्रैफिक नियमों को लेकर लोगों को जितना ज्यादा हो सके जागरूक किया गया है। आज इस वीक का आखिरी दिन है और आज हम आपको भारत की विभिन्न प्रकार की सड़कों पर दी जाने वाली लाइन्स के बारे में बताएंगे...

ब्रोकन वाइट लाइन: भारतीय सड़कों पर यही लाइन्स ज्यादा तर देखने को मिलती हैं। इसका मतलब यह है कि आप लेन चेज कर सकते हैं, व्हीकल को ओवरटेक कर सकते हैं और U-टर्न भी ले सकते हैं।

PunjabKesari

कंटीन्यूअस वाइट लाइन: इसका मतलब यह है कि आपको सड़क पर ओवरटेक या U-टर्न करने की मनाही है, लेकिन आप दुर्घटना होने से बचाव करते समय लाइन क्रॉस कर सकते हैं व टर्न भी ले सकते हैं। ये सड़कें ज्यादातर पहाड़ी इलाकों में देखी जाती हैं।

PunjabKesari

कंटीन्यूअस यैलो लाइन: ऐसी सड़कों पर आप अपनी लेन में ओवरटेक कर सकते हैं, लेकिन यैलो लाइन को क्रॉस करने की मनाही है। ऐसी लाइन लो विजिबिलिटी वाली सड़कों पर लगाई जाती हैं।

PunjabKesari

डब्ल कंटीन्यूअस येलो लाइन: इसका मतलब है कि सड़क पर दोनों तरफ से लाइन क्रॉस करने की सख्त मनाही है। आप ओवरटेक नहीं कर सकते, U-टर्न नहीं ले सकते और लेन चेंज भी नहीं कर सकते। जहां आपदाओं की उच्च संभावना होती है उन खतरनाक सड़कों पर यह लाइन लगाई जाती है।

PunjabKesari

ब्रोकन यैलो लाइन: इस लाइन में आपको ओवरटेक करने की अनुमति दी जाती है और आप यू-टर्न भी ले सकते हैं बशर्ते ऐसा करना सुरक्षित हो।

PunjabKesari

ट्रैफिक नियमों से जुड़े कुछ और सावधानी के संकेतों के बारे में...

लैफ्ट हैंड कर्व: इस साइन का मतलब है कि आगे सड़क पर बाएं हाथ में कर्व है।

PunjabKesari

लूज ग्रैवल: यह संकेत पहाड़ी क्षेत्र में कच्चे रास्ते या फिर बजरी होने की संभावना दर्शाता है।

PunjabKesari

पेडेस्ट्रियन क्रॉसिंग: इस साइन का मतलब है कि आगे पैदल यात्रियों के लिए एक क्रॉसिंग है।

PunjabKesari

स्कूल अहेड: इस साइन से पता चलता है कि आगे एक स्कूल है।

PunjabKesari

फालिंग रोक्स: यह संकेत चेतावनी देता है कि आगे चट्टाने गिर गई हैं।

PunjabKesari

गैप इन मेडियन: इससे यह पता चलता है कि सड़क पर आगे से यू-टर्न किया जा सकता है।

PunjabKesari

साइड रोड राइट: यह संकेत बताता है कि रास्ता सीधा जाने के अलावा दाहिनी ओर भी मुड़ता है।

PunjabKesari

Y-इंटरसैक्शन: इससे यह पता चलता है कि आगे सड़क का गठन Y शेप में है।

PunjabKesari

T-इंटरसैक्शन: यह संकेत बताता है कि आगे सड़क T शेप में है।

PunjabKesari

मेजर रोड अहेड: यह संकेत बताता है कि आगे एक क्रॉस रोड है।

PunjabKesari

अनगार्डेड लेवल क्रॉसिंग: इससे यह पता चलता है कि आगे एक रेलवे क्रॉसिंग है।

PunjabKesari

ट्रैफिक नियमों से जुड़े सूचनात्मक संकेतों के बारे में...

पब्लिक टेलीफोन: इस साइन का मतलब है कि आगे एक टेलीफोन सर्विस है।

PunjabKesariपेट्रोल पंप: इस साइन से आपको बताया जाता है कि आगे रास्ते में एक पेट्रोल पंप है।

PunjabKesari

हॉस्पिटल: इस संकेत का अर्थ है कि आगे एक अस्पताल है।

PunjabKesari

फस्ट एड पोस्ट: इस साइन का मतलब है कि आगे प्राथमिक चिकित्सा सुविधा है।

PunjabKesari

ईटिंग प्लेस: यह संकेत दर्शाता है कि आगे भोजन की सुविधा है।

PunjabKesari

लाइट रिफ्रेशमेंट: इससे पता चलता है कि आगे चाय या कॉफी की दुकान है।  

PunjabKesari

पार्क दिस साइड: इससे यह पता चलता है कि आगे एक जगह है जहां आप वाहन पार्क कर सकते हैं।

PunjabKesari

पार्किंग स्कूटर एंड मोटरसाइकिल्स: यह संकेत बताता है कि स्कूटर या मोटरसाइकिल के लिए पार्किंग की जगह है।

PunjabKesari

पार्किंग लोट साइकिल्स: इस साइन से यह पता चलता है कि केवल साइकिल के लिए पार्किंग की जगह है।

PunjabKesari

रैस्टिंग प्लेस: यह साइन बताता है कि आपके पास में एक मोटल या एक लॉज है।

PunjabKesari

ट्रैफिक नियमों से जुड़े सावधानी के संकेतों के बारे में...

राइट हैंड कर्व: इस साइन का मतलब है कि आगे सड़क पर दाएं हाथ में कर्व है।

PunjabKesari

राइट हेयर पिन बैंड: इस संकेत का अर्थ है कि आगे पहाड़ी के रास्ते में तीखा मोड़ है।

PunjabKesari

राइट रिवर्स बैंड: इस साइन से पता चलता है कि आगे सड़क Z-शेप में है।

PunjabKesari

स्टीप असेंट: यह संकेत बताता है कि आगे खड़ी चढ़ाई है।

PunjabKesari

स्टीप डीसेंट: इस साइन से आपको बताया जाता है कि आगे ढलान है।

PunjabKesari

नैरो रोड अहेड: यह संकेत दर्शाता है कि आगे संकरी सड़क है।

PunjabKesari

नैरो ब्रिज: यह आपको बताता है कि आगे संकरा पुल है।

PunjabKesari

स्लिपरी रोड: इस साइन के जरिए फिसलन वाली सड़क की चेतावनी दी जाती है।

PunjabKesari

मैन एट वर्क: इससे यह पता चलता है कि आगे सड़क की मरम्मत हो रही है।

PunjabKesari

हम्प और रफ रोड: यह साइन बताता है कि आगे उबड़-खाबड़ सड़क है।

PunjabKesari

गार्डिड लैवल क्रोसिंग: यह संकेत बताता है कि आगे एक रेलवे क्रॉसिंग है जोकि एक व्यक्ति द्वारा संरक्षित है।

PunjabKesari

ट्रैफिक नियमों से जुड़े रैगुलेटरी संकेतों के बारे में...

स्टॉप: इस साइन का मतलब है कि आप रुक जाएं।

PunjabKesari

गिव वे: इस संकेत का अर्थ है राइट साइड से आ रहे ड्राइवर्स को रास्ता दें।

PunjabKesari

नो एंट्री: इस संकेत से पता चलता है कि आगे एक प्रतिबंधित क्षेत्र है।

PunjabKesari

वन वे: यह संकेत बताता है कि वाहन एक ही दिशा में चलें।

PunjabKesari

होर्न प्रोहिबिटेड: यह संकेत दर्शाता है कि हॉर्न बजाना मना है।

PunjabKesari

नो पार्किंग: यह संकेत दर्शाता है कि इस जगह गाड़ी खड़ी करना मना है।

PunjabKesari

ओवरटेकिंग प्रोहिबिटेड: इससे यह पता चलता है कि ओवरटेक करना घातक है।

PunjabKesari

स्पीड लिमिट: ड्राइवर निर्धारित की गई स्पीड लिमिट को पार न करें।

PunjabKesari

कंपलसरी टर्न लैफ्ट: इस साइन से पता चलता है कि आगे लैफ्ट मुड़ना चाहिए।

PunjabKesari

कंपलसरी अहेड: यह संकेत बताता है कि आपको एक सीधी दिशा में जाना है।

PunjabKesari

ट्रैफिक साइन कलर्स

रैड: रैड साइन का इस्तेमाल ज्यादातर उन संकेतों के लिए किया जाता है जो आपको सावधान करते हैं और जिनको मानना अनिवार्य होता है जैसेकि रुकिए, प्रवेष निषेध आदि।

PunjabKesari

वाइट: वाइट कलर उन संकेतों के लिए इस्तेमाल किया जाता है जोकि दिशा-निर्देश देते हैं, जैसे कि स्पीड लिमिट आदि। ये साइन ज्यादातर रैक्टेंगुलर और स्क्वेयर शेप में होते हैं।

PunjabKesari

ऑरेंज: ऑरेंज साइन को निर्माण या मेंटेनेंस की चेतावनी देने के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है। ऐसे साइन देखते ही आपको तुरंत अपने वाहन को धीमा कर लेना चाहिए।

PunjabKesari

ग्रीन: इस कलर का उपयोग रास्ते के बारे में सही जानकारी देने के लिए होता है। शहर में एंट्री होने से पहले आपको ऐसे साइन दिख जाएंगे।

PunjabKesari

यैलो:  इसे सामान्य चेतावनी कहा जा सकता है। इसे खास तौर पर सड़क की स्थिती के बारे में सही से ना पता होने या सड़क के खराब होने पर लगाया जाता है।

PunjabKesari

ब्लू: विकलांग ड्राइवरों को पार्किंग स्थान की पहचान हो सके इसी लिए इस साइन को लगाया जाता है।

PunjabKesari

फ्लोरोसेंट यैलो ग्रीन: सड़क के पास स्कूल है। लोग पैदल चलते हैं या फिर जहां साइकिल चलाते हैं, वहां इस कलर के साइन लगाए जाते हैं।

PunjabKesari

ब्राउन: सार्वजनिक मनोरंजन सांस्कृतिक या ऐतिहासिक महत्व के क्षेत्र के लिए ब्राउन साइन्स का उपयोग किया जाता है।

PunjabKesari

पिंक: इस कलर के साइन को वहां इस्तेमाल किया जाता है जहां कोई एक्सीडेंट हुआ हो या फिर रास्ता बंद हो।

PunjabKesari

जानिए रोड साइन्स और उनकी शेप्स के बारे में...

राउंड शेप्स

ड्राइवर को इन संकेतों का पालन करना अनिवार्य है। जब भी आप इस तरह का कोई संकेत देखें तो इनकी पालना करें नहीं तो आपको जुर्माना लगेगा।

PunjabKesari

ट्राएंगल शेप्स

इन्हें सावधानी का संकेत भी कहा जाता है। जब भी आप इस तरह का कोई साइन देखें तो अधिक सावधानी से ड्राइव करें और आगे की सड़क पर पूरा ध्यान रखें।

PunjabKesari

ऑक्टागोन शेप

इस साइन को स्टॉप साइन भी कहा जाता है। इसे देखते ही आपको सबसे पहले अपने वाहन को रोकना है।

PunjabKesari

रैक्टेंगुलर साइन

इसका उपयोग सूचनात्मक संकेतों के लिए किया जाता है। अगर आप किसी खास जगह पर जा रहे हैं तो आपको इन पर अधिक ध्यान देना है। 

PunjabKesari


Hitesh

Recommended News