CES 2018: किसानों को फसल की निगरानी करने में मदद करेगा यह रोबोट

Friday, January 12, 2018 10:48 AM
CES 2018: किसानों को फसल की निगरानी करने में मदद करेगा यह रोबोट

जालंधर : लास वेगास में आयोजित हो रहे CES 2018 के तीसरे दिन भी कई बेहतरीन प्रोडक्ट्स को दुनिया के सामने पहली बार दिखाया गया। इस इवैंट में जहां किसानों के लिए खेतों की निगरानी करने वाला पहला रोबोट पेश किया गया है, वहीं एयर टैक्सी जैसी हाई एंड तकनीक भी पहली बार लोगों को दिखाई गई है। इसके अलावा इवैंट में 32 इंच टीवी से लैस ट्रैडमिल व मर्सिडीज के नए वायस कमांड्स को सपोर्ट करने वाले इनफोटेनमैंट सिस्टम से भी पर्दा उठाया गया है।

 

इस इवैंट में प्रिंसटन, न्यू जर्सी की कृषि कम्पनी अरेबल ने नए रोबोट को पेश किया है जो किसानों को उनके खेतों की निगरानी करने में मदद करेगा। इस रोबोट में लगे सैंसर्स बारिश होने पर पानी की मात्रा की जांच करेंगे और किसान को यह जानकारी देंगे कि फसल को और पानी चाहिए या नहीं। इसके अलावा द मार्क नामक यह रोबोट आकाश और जमीन में पड़ रही लाइट के लैवल को भी चैक करेगा और फसल के रंग से ही यह पता लगा लेगा कि फसल कटने लायक हो गई है या नहीं। इसमें 4G सैलुलर कनैक्टिविटी दी गई है। यानी यह सारा डाटा क्लाऊड सर्वर पर सैंड करेगा जहां से किसान को स्मार्टफोन एप के जरिए खेतों की पूरी जानकारी मिलेगी। 

PunjabKesari

 

उपयोग करने में है आसान

इस रोबोट का उपयोग करना काफी आसान है, किसान को बस इसे अपने खेत में रखना होगा। जिसके बाद यह इसमें लगे सोलर पैनल्स से पावर लेकर बैटरी में सेव करेगा और ऑटोमैटिकली काम करना शुरू कर देगा। इसकी निर्माता कम्पनी ने दावा किया है कि इसे खेत में रखने के बाद कई वर्षों तक बिना किसी चिंता के उपयोग में लाया जा सकता है। 

 

फसल को बीमारी लगने से पहले किसान को मिलेगी जानकारी

द मार्क नामक यह रोबोट मशीन लर्निंग अल्गोरिदम, फसल पर पड़ रही लाइट व सैंसर्स से ही यह डिटैक्ट कर लेगा कि फसल को बीमारी लगने वाली है व उससे पहले किसान को इसकी जानकारी देगा जिससे फसल को बर्बाद होने से बचाया जा सकेगा। इस तकनीक पर अरेबल कम्पनी काफी समय से काम कर रही थी और आखिरकार इसे CES 2018 में पहली बार लोगों के सामने दिखाया गया है। 

 

वोलोकॉप्टर ने दिखाई नई एयर टैक्सी

जर्मनी की इलैक्ट्रिक मल्टीरोटर निर्माता कम्पनी वोलोकॉप्टर ने इस इवैंट में 18 रोटर ह्यूमन साइज के ड्रोन को पेश किया है। इसे इंटेल द्वारा लास वेगास के कन्वैंशन सैंटर में लगाई गई एग्जीबिशन में उड़ाया गया है। इस ड्रोन में 9 बैटरियां लगी हैं जिन्हें एक बार फुल चार्ज कर 30 मिनट तक उड़ाया जा सकता है। इसे शहरों में उपयोग में लाने के लिए काफी खास माना जा रहा है क्योंकि शहरों में इसके जरिए एक जगह से दूसरी जगह जाने में महज 5 से 10 मिनट का समय लगेगा और इससे कोई प्रदूषण भी नहीं होगा। 

PunjabKesari

 

वोलोकोप्टर ने दावा करते हुए बताया है कि इसमें लगी बैटरी को 3 से 5 मिनट में नई बैटरी के साथ बदल कर इसकी रेंज को बढ़ाया भी जा सकता है। माना जा रहा है कि एयर टैक्सीस को शुरू करने के लिए कम्पनी को 5 वर्ष का समय लग सकता है। 

 

इवैंट में दिखाया गया स्मार्ट बुलेटिन बोर्ड

इस इवैंट में देश के नागरिकों तक जरूरी जानकारी को पहुंचाने के लिए एक बुलेटिन बोर्ड को पेश किया गया है। इस कम्युनिटी बुलेटिन बोर्ड में 42 इंच की ई-इंक डिस्प्ले लगी है जो देश के नागरिकों तक जरूरी जानकारी को पहुंचाने में मदद करेगी। कम्युनिटी के मैम्बर इस सूफा साइन नामक बुलेटिन बोर्ड में दिए गए cms के जरिए मैसेजिस को पोस्ट कर सकते हैं और घोषणाओं के बारे में जानकारी जुटा सकते हैं। माना जा रहा है कि यह तकनीक म्यूनिसिपल ट्रांजिट सिस्टम के साथ कनैक्ट होकर बस के आने का समय व सोशल मीडिया फीड्स की भी जानकारी देगी। इसका डैमो देने के बाद कम्पनी ने लास वेगास में 6 पायलट प्रोग्राम्स को लगा दिया है।

PunjabKesari

 

पैनासोनिक ने दिखाया नया GHzs कैमरा 

जापान की इलैक्ट्रोनिक्स कम्पनी पैनासोनिक ने इस इवैंट में 4K वीडियो बनाने वाले नए कैमरे को पेश किया है। कम्पनी ने बताया है कि इसे खास तौर पर लो लाइट कन्डीशन में फोटोग्राफी करने के लिए बनाया गया है। इस कैमरे की खासियत है कि यह 4K (4,096 × 2,160 पिक्सल्स) की वीडियो 60 फ्रेम प्रति सैकेंड पर रिकार्ड करता है। फिलहाल कम्पनी ने इस कैमरे को दिखाते हुए जानकारी दी है कि इसे फरवरी में लॉन्च किया जाएगा और इसकी कीमत 2,499 डॉलर (लगभग 1 लाख 59 हजार रुपए) से शुरू होगी। 

PunjabKesari

 

रास्ता बताने में मदद करेंगे LG के नए रोबोट्स

CES 2018 में दक्षिण कोरियाई इलैक्ट्रोनिक कम्पनी LG ने रोबोट्स की नई CLOi सीरीज को पेश किया है। इन रोबोट्स की चैस्ट पर टचस्क्रीन्स लगी हैं जिनकी मदद से राह में चलने वाले लोग रास्ते का पता लगा सकते हैं। कम्पनी ने बताया है कि इनमें वॉयस रिकोग्नीशन तकनीक भी दी गई है लेकिन अनेक भाषाओं में होने के कारण अभी यह तकनीक प्रभाव में नहीं लाई गई है। 

PunjabKesari

 

32 इंच TV के साथ दिखाई गई पहली ट्रैडमिल

इस इवैंट में पीलोटोन कम्पनी ने नए 32 इंच TV टचस्क्रीन के साथ नए फिटनैस स्टूडियो को पेश किया है। इसके जरिए वजन घटाने के साथ आप लाइव और ऑन डिमांड क्लास ले सकते हैं। इस कीलोटोन ट्रैड  नामक ट्रैडमिल में लगी डिस्प्ले के नीचे 20 वॉट की साऊंड बार लगी है जो साऊंड का बेहतरीन अनुभव देती है, वहीं इसमें हैडफोन जैक भी दिया गया है जो हैडफोन को लगा कर एक्सरसाइज करने में मदद करता है। इसे 3,995 डॉलर (लगभग 2 लाख 54 हजार रुपए) में उपलब्ध किया जाएगा। 

PunjabKesari

 

इवैंट में दिखाई गई पहली हाइब्रिड वॉच

अमरीकी स्मार्ट वॉच निर्माता कम्पनी मिसफिट ने इस इवैंट में नई हाइब्रिड वॉच को लॉन्च किया है। यह 38mm साइज वाली हाइब्रिड वॉच स्मार्टफोन के साथ कनैक्ट होकर टैक्स्ट मैसेज, ई-मेल और फोन काल्स आने पर कस्टम वाइब्रेशन से आपको अलर्ट करेगी। इसके अलावा इसे ब्लूटुथ के जरिए स्मार्टफोन के साथ कनैक्ट कर आप गाने को प्ले-पॉज करने के साथ स्मार्टफोन कैमरे को रिमोटली भी ऑपरेट कर सकते हैं। कम्पनी ने बताया है कि यह हाइब्रिड वॉच 50 मीटर पानी के अंदर रहने पर भी खराब नहीं होगी। इसे 150 डॉलर (लगभग 9500 रुपए) में उपलब्ध किया जाएगा। 

PunjabKesari

 

मर्सिडीज अपनी कारों में देगी नया इंफोटेनमैंट सिस्टम

CES 2018 में जर्मन की कार निर्माता कम्पनी मर्सिडीज ने नए इंफोटेनमैंट सिस्टम से पर्दा उठाया है। यह सिस्टम वायस कन्ट्रोल के जरिए काम करता है और एड्रॉयड ऑटो व एप्पल कार प्ले को सपोर्ट करता है। 23 भाषाओं की सपोर्ट के साथ यह सिस्टम नेविगेशन, क्लाइमेट कन्ट्रोल, हीटिंग, सीट को मूव करने व मीडिया फाइल्स को सिलैक्ट करने में मदद करता है। 

PunjabKesari

 

दो साइज में सोनी ने पेश किए नए 4K TV

जापान की इलैक्ट्रोनिक कम्पनी सोनी ने इस इवैंट में दो नए 4K OLED TVs को पेश किया है।  इनमें से एक को 55 इंच साइज में पेश किया गया है, वहीं दूसरे को 65 इंच साइज के साथ लॉन्च किया गया है। कम्पनी ने बताया है कि यह टी.वी. क्रिस्टल साऊंड देंगे। फिलहाल इसकी कीमत को लेकर कई जानकारी सामने नहीं आई है। 

PunjabKesari


कम दूरी का सफर तय करेगा Onewheel+ XR

इलैक्ट्रिक स्केटबोर्ड निर्माता कम्पनी वनव्हील ने इस इवैंट में नई तकनीक से बने इलैक्ट्रिक बोर्ड Onewheel+ XR को पेश किया है। इसकी खासियत है कि इसमें सिर्फ 1 टायर लगा है यानी चालक सिर्फ शरीर की मूवमैंट से ही इसे चला सकते हैं। इसकी निर्माता कम्पनी ने दावा किया है कि इसे एक बार में 12 से 18 मील (लगभग 19 से 28 किलोमीटर) तक चलाया जा सकता है और इसे किसी खास जगह पर पार्क करने की भी जरूरत नहीं है। इस 1 व्हील पर काम करने वाले इलैक्ट्रिक बोर्ड को बस स्टैंड से ऑफिस जाने व ऑफिस से बस स्टैंड आने के लिए काफी उपयोगी माना जा रहा है। 

PunjabKesari

 

इवैंट में दिखाई गई डीप फ्रेम टैक्नोलॉजी 

CES 2018 में पहली डीप फ्रेम टैक्नोलॉजी से पर्दा उठाया गया है। यह तकनीक सिर्फ रिफ्लैक्शन पर ही आधारित है। इवैंट में एक 64 इंच की डीप फ्रेम स्क्रीन दिखाई गई है जो देखने में शीशे के जैसी ही है लेकिन यह रिफ्लैक्शन से तस्वीरों को शो करती है।    

PunjabKesari




आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!